💮 सुजानपुर में पटकों से पटकने का दावा कर रही भाजपा और कांग्रेस 

💮 प्रदेश की हॉट सीट एक बार फिर से बन रही सुपर हॉट

💮 चुनावों से एक साल पहले ही गर्म हो गई राजनीति

रजनीश शर्मा / हमीरपुर 
गत विधानसभा चुनावों में प्रदेश की सबसे हॉट सीट रही सुजानपुर एक बार फिर सुपर हॉट सीट बनती नजर आ रही है। विधानसभा चुनावों को बेशक करीब करीब एक वर्ष बचा है लेकिन सुजानपुर में माहौल चुनावों की तरह गर्मा चुका है। यहां रोज भाजपा और कांग्रेस पटका राजनीति से एक दूसरे को पटकने में प्रयासरत हैं। भाजपा की कमान पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने संभाली है तो दूसरी तरफ कांग्रेस विधायक राजेंद्र राणा मोर्चा संभाले हुए हैं। तरकश से रोज तीर निकल रहे हैं तथा एक दूसरे पर आरोपों की बौछारें होना शुरू हो गई है।

धूमल सुजानपुर से पहला चुनाव हारे

प्रेम कुमार धूमल सुजानपुर विधान सभा क्षेत्र से एक चुनाव लड़े लेकिन उस चुनाव में राजेंद्र राणा के मुकाबले हार गए। धूमल चुनाव ही नहीं हारे बल्कि मुख्यमंत्री की कुर्सी  भी उनसे दूर चली गई। भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार धूमल  की हार के साथ ही प्रदेश भाजपा के सारे समीकरण बिगड़ गए तथा परिस्थितिवश जय राम ठाकुर प्रदेश के सीएम बन गए।
राजेंद्र राणा सुजानपुर से दो बार जीते
उधर दूसरी तरफ राजेंद्र राणा सुजानपुर से  पहला चुनाव आजाद उम्मीदवार तो दूसरा चुनाव कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में जीतकर विधायक बने। दोनों बार राणा ने भाजपा को शिकस्त दी। लगातार दो हारों का सामना कर सुजानपुर भाजपा को खूब झटका लगा। भाजपा की हार क्यों हुई इस बारे काफी चर्चाएं हो चुकी है। आजाद उम्मीदवार के रूप में राजेंद्र राणा ने कांग्रेस की प्रत्याशी अनीता वर्मा और भाजपा की उर्मिल ठाकुर को हराया था। दूसरी बार राजेंद्र राणा भाजपा के दिग्गज उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल को हराने में कामयाब रहे।

लोगों की मांग धूमल फिर से लड़ें चुनाव

 
अब विधानसभा चुनाव 2022 में  हालात 2017 से भिन्न हैं। केंद्र की मोदी सरकार में अनुराग ठाकुर कैबिनेट मंत्री हैं। धूमल लगातार सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र पर फोकस किए हुए हैं। रूठों को मनाकर धूमल लगातार सुजानपुर विस क्षेत्र का दौरा  कर रहे हैं।  पर्सनल कॉन्टैक्ट  उनके जन संपर्क अभियान का प्रमुख हिस्सा है। विस के दुर्गम गांवों में धूमल की हाजिरी लोगों को लुभा रही है। लोग भी अधिक संख्या में शामिल होकर उनसे सुजानपुर से ही चुनाव लड़ने  का आग्रह कर रहे हैं। धूमल के कार्यक्रमों में पहुंच लोग स्वयं भाजपा का पटका गले में पहन जय श्री राम के नारे लगा रहे हैं।

हॉट से सुपर हॉट सीट बनती दिख रही सुजानपुर

वहीं दूसरी तरफ राजेंद्र राणा के कार्यक्रमों में भी मुकाबले की भीड़ दिखती है। पटका पहन कांग्रेस में शामिल होने वालों की कमी यहां भी नहीं है। राजेंद्र राणा की सामाजिक सेवा और जरूरतमंदों की आर्थिक मदद उनकी राजनीतिक मजबूती की अभी भी ढाल बनी हुई है। ऐसे में सुजानपुर की धरती विधानसभा चुनावों में न केवल हॉट सीट होगी बल्कि इसे सुपर हॉट सीट माना जाने लगा है। कयास लगाए जा रहे हैं कि आने वाले समय में सुजानपुर की पटका राजनीति दिलचस्प दौर में पहुंच जाएगी।
Advertisement